श्री ज्योति भट्ट को पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त

भावनगर (गुजरात)। भारत सरकार ने 70वें गणतंत्र दिवस पर अनेक कलाकारों को पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया। इस कड़ी में वड़ोदरा (गुजरात) के ज्योति भट्ट को प्रिंटिंग कला क्षेत्र में योगदान के लिए ‘पद्मश्री’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि 12 मार्च 1934 को जन्मे श्री भट्ट एक अनुभवी प्रिंट मेकर, चित्रकार और फोटोग्राफर हैं। ललित कला के क्षेत्र में प्रसिद्ध बड़ौदा की प्रसिद्ध संस्था में श्री भट्ट अध्यापन कार्य कर चुके हैं। पेंटिंग, प्रिंट मेकिंग, ड्राइंग, डिजाइन के क्षेत्र में उनके मार्गदर्शन एवं ज्ञान से कई कलाकारों एवं पेशेवरों को लाभ मिल चुका है। श्री ज्योति भट्ट ने एक चर्चा में जानकारी दी कि उन्हीं के शब्दों में इस अवार्ड के लिए कलाकार को स्वयं फार्म भरना पड़ता है जो मुझे पसंद नहीं था। ये फार्म भरना मुझे अपमान लगता था जो मुझे पसंद नहीं था। कल जब इस अवार्ड की घोषणा की सूचना मुझे मिली तब पता चला कि इस अवार्ड के लिए फाइन आर्ट के छात्रों और मेरे सहयोगियों ने ये फार्म भरकर भारत सरकार को भेजा था। मैं यह मानने लगा था कि सरकार में कलाकारों के लिए कोई जगह नहीं है। भारत सरकार ने मेरी मान्यता को गलत ठहराया। मैं कला नगरी के सभी कलाकारों, मित्रों को अर्न्तमन से धन्यवाद देता हूँ जिन्होंने मेरे कार्य को भारत सरकार तक पहुंचाया।

औदीच्य बंधु एवं सम्पूर्ण औदीच्य समाज की ओर से श्री भट्ट को बधाई।

Posted in शुभकामनाएं - Wishes.